चेक बाउंस के दो मामलो में दो साल की सजा, 1.80 का जुर्माना

रामनगर। चेक बाउंस के दो अलग-अलग मामलो में न्यायालय ने आरोपी को एक-एक साल के कारावास व अस्सी हजार तथा एक लाख रुपये अर्थदंण्ड की सजा सुनाई है। अर्थदण्ड न जमा करने की स्थिति में आरोपी को एक-एक माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट गीता चैहान की न्यायालय में परिवादी सलीम मलिक ने दीपक चावला पुत्र रमेश चावला निवासी तीरथ होटल भवानीगंज पर आरोप लगाया था कि उसने करीब तीन वर्ष पूर्व एक लाख चालीस हजार रुपये बतौर उधार छः माह के लिये मांगे थे। छः माह के बाद पैसे वापस लौटाने के नाम पर दीपक आज-कल कहकर मामले को लटकाता रहा। लगातार तकादे के बाद करीब तीन साल के बाद दीपक ने धन वापसी के लिये दो चेक अस्सी हजार व साठ हजार रुपये के भुगतान के लिये दिये थे, जो कि परिवादी द्वारा अपने बैंक खाते में डालने पर दीपक के बैंक खाते में पर्याप्त धन न होने के कारण बैंक से बाउंस हो गये थे। मामले में सलीम मलिक ने अपने अधिवक्ता चन्द्रशेखर करगेती के माध्यम से न्यायालय में दो अलग-अलग वाद दायर किये थे, जिसमें करीब ढाई साल चली न्यायालय में सुनवाई के बाद परिवादी के अधिवक्ता की ओर से न्यायालय में प्रस्तुत किये गये साक्ष्यो के आधार पर न्यायालय ने आरोपी को दोनो मामलो में दोषी मानते हुये फौजदारी वाद में एक वर्ष के कारावास व अस्सी हजार रुपये के अर्थदण्ड से तथा फौजदारी वाद संख्या 587/2019 में एक वर्ष के कारावास व एक लाख रुपये के अर्थदण्ड से दण्डित किये जाने का आदेश दिया। अर्थदण्ड न जमा करने की स्थिति मंे आरोपी को दोनो मामलो में एक-एक माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

x

Check Also

रामनगर में BJP के इस ‘पोस्टर ब्वॉय’ के खिलाफ थाने पहुंची भाई की पत्नी!

रामनगर(नैनीताल)दो साल पहले नगर की सड़कों किनारे खम्बो,यूनिपोलो में अपने बड़े-बड़े होडिंग्स लगाकर और BJP को एक लाख का चेक ...