पहले चलाते थे ऑटो-रिक्शा, अब खर्च करते हैं BMW, Jaguar के नम्बर के लिए 40 लाख रूपए

डिया में कई रंक-से-राजा होने की कहानियां हैं और कई आपको प्रेरित भी करती हैं. पेश है Jaipur के Rrahul Tanejaa की ऐसी ही कहानी, और Rrahul अपने कार्स के लिए मनचाहे नम्बर्स पाने के लिए बड़ी रकम भी खर्च करते हैं. Rrahul Tanejaa हाल ही में तब प्रसिद्ध हुए जब उन्होंने अपने पसंद की नम्बर प्लेट के लिए 16 लाख रूपए खर्च किये. एक रिपोर्ट के मुताबिक़, उन्होंने अपने पसंद के नम्बर्स के लिए कुल 40 लाख रूपए खर्च किये हैं.

Rrahul का कहना है की ‘1’ उनके लिए लकी नम्बर है और उन्होंने अपने चारों कार्स के लिए मनचाहे नम्बर्स पाने के लिए अच्छे पैसे खर्चे हैं. Jaipur RTO ने कन्फर्म किया की ये वहां एक स्पेशल नम्बर पाने के लिए खर्च किये गए अब तक की सबसे बड़ी धनराशी है. Rrahul ने अपनी नयी Jaguar XJ के लिए ‘RJ 45 CG 0001’ नम्बर लिया. उनकी पहली लक्ज़री कार BMW 5-Series उन्होंने 2011 में ली थी और उसके लिए स्पेशल नम्बर लेने के लिए उन्होंने 10.5 लाख रूपए चुकाए थे. बाद में उन्होंने अपनी पत्नी के लिए सेकंड-हैण्ड Skoda Laura खरीदी जिसपर पहले से ही 0001 नम्बर था और उसके बाद उन्होंने BMW 7-Series खरीदी. यहाँ तक की Rrahul के मोबाइल नम्बर में भी 7 बार ‘1’ आता है.

Rrahul का कहना है की उनके हर काम में नम्बर 1 बनने की चाह के चलते इस नम्बर से उन्हें लगाव है. उन्होंने अपना घर 11 साल की उम्र में छोड़ दिया था और जीने-खाने के लिए कई तरह के काम किये. Rrahul का कहना है की पहले उन्होंने पतंग, राखी, और बाकी त्यौहार की चीज़ें बेच कर शुरुआत की. बाद में उन्होंने ऑटो-रिक्शा चलाना भी शुरू किया. Rrahul एक ऐसे घर में रहते थे जिसके मालिक के पास ऑटो-रिक्शा थी.

चूंकि उनके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं हुआ करता था, इसलिए वो 9 बजे के बाद रिक्शा चलाया करते थे. उन्होंने एक दोस्त के जिद करने के बाद मॉडलिंग में हाथ आज़माया और उन्हें तब उनका पहला ब्रेक मिला, और उसके बाद उन्होंने Jaipur में एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी खोली. Rrahul सिर्फ प्रीमियम क्लाइंट्स से काम लेते हैं और उनकी कंपनी प्रीमियम शादियाँ भी आयोजित करती है. एक मनचाहे कार नम्बर के लिए 40 लाख रूपए खर्च करना फ़िज़ूलखर्ची भी कही जा सकती है लेकिन अगर ये नम्बर उन्हें और और आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा देता है तो शायद ये सही कदम ही है.

 

x

Check Also

रामनगर में इन दो स्टोन क्रेशरों के निर्माण पर NGT ने लगाई रोक

रामनगर(नैनीताल)एनजीटी ने ग्राम सक्खनपुर में निर्माणाधीन दो स्टोन क्रशर के निर्माण पर रोक लगा दी है।राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण ने ग्राम ...